विश्व योग दिवस 2024आरजेएसपीबीएच द्वारा अध्यात्म योग संस्थान व विश्व भारती योग संस्थान के सहयोग से होगा योग कार्यक्रम

राम-जानकी संस्थान पाॅजिटिव ब्राॅडकास्टिंग हाउस(आरजेएस पीबीएच) द्वारा अमृत काल का सकारात्मक भारत-उदय श्रृंखलाबद्ध कार्यक्रमों की कड़ी में 229वां कार्यक्रम  10 वें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के उपलक्ष्य में इस साल …

आरजेएस पीबीएच पर्यावरण दिवस से वन महोत्सव तक प्रकृति संरक्षण माह मनाएगा

राम-जानकी संस्थान पाॅजिटिव ब्राॅडकास्टिंग हाउस (आरजेएस पीबीएच) का 227वां कार्यक्रम संस्थापक उदय कुमार मन्ना के संयोजन में विश्व पर्यावरण दिवस के उपलक्ष्य में अवर लैंड अवर फ्यूचर यानि धरती …

हिन्दी पत्रकारिता दिवस का आयोजन हुआ

30 मई हिन्दी पत्रकारिता दिवस 2024 के अवसर पर नजफगढ़ मेट्रो न्यूज़ और समाचार निर्देश के सहयोग से राम-जानकी संस्थान पॉजिटिव ब्रॉडकास्टिंग हाउस (आरजेएस पीबीएच) ने नजफगढ़, नई दिल्ली …

रमाबाई अम्बेडकर – बाबा साहेब को महापुरुष बनाने वाली महानायिका !

पिछले महीने करोड़ों दलित समाज के भाईओं बहनों ने डॉ. भीमराव रामजी आंबेडकर जी का 133वां जन्म दिवस मनाया है, बाबा साहेब के नाम से लोकप्रिय, वह भारतीय विधिवेत्ता, अर्थशास्त्री, राजनीतिज्ञ और …

पत्रकारिता तथ्य व सत्य के पक्ष में जनपक्षीय होनी चाहिए -प्रो. के.जी.सुरेश

हर साल की तरह इस साल भी हिन्दी पत्रकारिता दिवस का आयोजन आरजेएस पीबीएच संस्थापक व राष्ट्रीय संयोजक उदय कुमार मन्ना के संयोजन में अमृत काल का सकारात्मक भारत …

विश्व जैव विविधता दिवस के उपलक्ष्य में”सृष्टि की रचना और जैव विविधता” पर कार्यक्रम

आरजेएस पीबीएच के अमृत काल का सकारात्मक भारत-उदय ग्रंथ 03 पुस्तक निर्माण के श्रृंखलाबद्ध कार्यक्रमों की कड़ी में 225वां ऑनलाइन कार्यक्रम रविवार 19 मई 2024 को संस्थापक व राष्ट्रीय …

माँ की याद में !

— मदर्स डे ( मातृ दिवस ) के शुभ अवसर पर एक कविताआर डी भारद्वाज “नूरपुरी “ बहुत दिन नहीं , बहुत वर्ष बीत गए हैं ,मेरी माँ को …

विश्व परिवार और मातृ दिवस पर आरजेएस पीबीएच वेबिनार में मां और परिवार की महत्ता बताई गई

राष्ट्र प्रथम भारत एक परिवार विश्व एक घर -वसुधैव कुटुम्बकम विषय पर आरजेएस पीबीएच के 224 वें वेबिनार को  “विश्व परिवार और मातृ दिवस” पर ऑस्ट्रेलिया से श्वेता गोयल …

संसद मार्ग पर अम्बेडकर जयंती : आँखों देखा हाल !

अगर हम इत्तेहास की परतें फरोलें तो हमें पता चलता हैं कि दुनियाँ के अनेक भागों में समय २ पर सैंकड़ों बड़े 2 परिवर्तन लाने वाली बड़ी 2 क्रांतियाँ …