बुरे फंसे डोनाल्ड ट्रंप

डॉ. वेदप्रताप वैदिक अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की जैसी दुर्दशा आज हो रही है, किसी भी अमेरिकी राष्ट्रपति की कभी नहीं हुई। ऐसा नहीं है कि ढाई सौ …

नारायण सिंह केसरी ने बॉलीवुड क्वीन कंगना राणावत को राष्ट्र प्रेम के लिए प्रोत्साहित किया

भोपाल(श्योर शॉट) 14 जनवरी, 2020:भारतीय हिंदुत्व सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष नारायण सिंह केसरी ने, बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना राणावत से मिलकर उन्हें आशीर्वाद दिया. हिमाचल की बेटी ने बॉलीवुड फिल्म …

13 वां जयपुर अन्तर्राष्ट्रीय फिल्म फेस्टिवल 15 जनवरी से शुरू

(श्योर शॉट) जयपुर 14 जनवरी, 2020 : फिल्मप्रेमियों के लिए खुशखबरी है कि पांच दिवसीय 13 वां जिफ (जयपुर अन्तर्राष्ट्रीय फिल्म फेस्टिवल) 15 जनवरी से ऑनलाइन शरू हो रहा …

सरकार तुरंत पहल करे

डॉ. वेदप्रताप वैदिक सर्वोच्च न्यायालय की यह कोशिश तो नाकाम हो गई कि वह कोई बीच का रास्ता निकाले। सरकार और किसानों की मुठभेड़ टालने के लिए अदालत ने …

भारत की विश्व-भूमिका

डॉ. वेदप्रताप वैदिक संयुक्तराष्ट्र संघ की सुरक्षा परिषद का भारत पिछले हफ्ते सदस्य बन गया है। वह पिछले 75 साल में सात बार इस सर्वोच्च संस्था का सदस्य रह …

आशिकी फेम राहुल रॉय संग ताहिर कमाल खान का म्यू जिक वीडियो ‘जान कद लेय गई’ रिलीज

(श्योर शॉट)एस के फिल्स्टुल प्रोडक्शजन के बैनर तले बनी बॉलीवुड म्यू जिक वीडियो ‘जान कद लेय गई’ म्यूवजिक वीडियो अल्ट्रॉल बॉलीवुड के यूट्यूब चैनल पर रिलीज किया गया है. …

कोरोना का टीका पहले नेता लें

डॉ. वेदप्रताप वैदिक कोरोना का टीका देश के लोगों को कैसे सुलभ करवाया जाएगा, इसके लिए केंद्र का स्वास्थ्य मंत्रालय पूरा इंतजाम कर रहा है लेकिन टीके के बारे …

किसान नेता जरा संयम दिखाएं

डॉ. वेदप्रताप वैदिक सरकार और किसानों का आठवाँ संवाद भी निष्फल रहा। इस संवाद के दौरान ज़रा साफगोई भी हुई और कटुता भी बढ़ी। थोड़ी देर के लिए बातचीत …

विश्व हिंदी दिवस पर सकारात्मक भारत प्रशिक्षण कार्यशाला का समापन

 सकारात्मक भारत के लिए दो दिवसीय RJS प्रशिक्षण कार्यशाला का  विश्व हिंदी दिवस 10जनवरी 2021को समापन हो गया।सकारात्मक सोच का भारत बनाने के लिए राम-जानकी संस्थान नई दिल्ली द्वारातपसिल जाति …

विवेकानन्द जयंती के उपलक्ष्य में सकारात्मक भारत के लिए दो दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला

आपकी समस्याओं के लिए जिम्मेवार आप स्वयं होते है, दूसरे तो उस अच्छे हिस्से पर काबिज होते हैं, जो आप छोड़ चुके होते हैं। दूसरे लोग केवल हमारी क्रिया …